Bilaspur University विश्विद्यालय द्वारा सभी महाविद्यालय को उत्तर पुस्तिका जमा करनें हेतु जारी हुई अधिसूचना!

Bilaspur University विश्विद्यालय द्वारा सभी महाविद्यालय को उत्तर पुस्तिका जमा करनें हेतु जारी हुई अधिसूचना!

अटल यूनिवर्सिटी ने मूल्यांकन को लेकर नया नियम जारी किया है। नए नियम के अनुसार बीएड, पीजीडीसीए, डीसीए, पीजीडीबीएम, पीजीडीआईबी, बीएससी कंप्यूटर साइंस की उत्तरपुस्तिका यूनिवर्सिटी चेक करवाएगी। इसलिए कॉलेज के छात्रों की कॉपी जमाकर उसका बंडल बनाकर यूनिवर्सिटी में जमा करें। जबकि कॉलेजों का कहना है कि उत्तरपुस्तिका ले जाना यूनिवर्सिटी का काम है। वहीं अन्य विषयों की उत्तरपुस्तिका के लिए यूनिवर्सिटी ने कहा है कि जिन कॉलेजों में नियमित

शिक्षक हैं, वे उत्तरपुस्तिका उन्हीं से चेक कराएं। जिन कॉलेजों में नियमित शिक्षक नहीं हैं, उन्हें नजदीकी कॉलेज में कॉपी भेजनी है। अगर वहां भी यही स्थिति है तो यूनिवर्सिटी उनकी उत्तरपुस्तिका चेक करवाएगी। इस नियम को लेकर कॉलेज विरोध कर रहे हैं। कॉलेजों का कहना है कि दूसरे यूनिवर्सिटी को लाभ पहुंचाने एयू ऐसा कर रही है। वहीं एयू ने छात्रों से परीक्षा फीस ली है और उत्तरपुस्तिका कॉलेजों को लाने को कहा जा रहा है। यूनिवर्सिटी इसके लिए गाड़ियों की कमी का हवाला दे रही है। एयू के जिन अधिकारियों को पात्रता नहीं है, वेभी गाड़ियों का उपयोग कर रहे हैं।

तय तारीख में भी छात्रों ने नहीं जमा की हैं कॉपियां छात्रों की उत्तरपुस्तिका जमा करने की तारीख आ गई है, पर अधिकांश छात्रों ने अभी तक कॉलेजों में उत्तरपुस्तिका नहीं जमा की है। वहीं जो छात्र कॉपी जमा कर रहे हैं। इनमें अधिकांश उन प्रश्नों का उत्तर लिख दिया गया है, जो उनका पेपर ही नहीं है।

प्रश्नपत्र में मिल रही गलती एयू ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रश्नपत्र दे रही है। ऐसे में अधिकांश पेपर में गड़बड़ी मिल रही है। जो शब्द अंग्रेजी में लिखे हैं, उसका फांट ही बदल गया है। इससे प्रश्न ही समझ नहीं आ रहा है। इसके कारण कॉलेज द्वारा छात्रों को प्रश्नपत्र की हार्डकॉपी नहीं दी जा रही है। डीपी विप्र लॉ कॉलेज छात्रों को वापस कर दे रहा है।

अटल यूनिवर्सिटी के पीआरओ हर्ष पाण्डेय ने कहा कि यूनिवर्सिटी उत्तरपुस्तिका कॉलेज को भेजने क्यों बोल रही है, इसकी कुछ भी जानकारी मुझे नहीं है। मैं इस बारे में कुछ भी नहीं बता पाउंगा।

Join in WhatsApp Group 👉 Link 👈

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *